दुनिया के 7 नये अजूबों की पूरी जानकारी - Jankari Dunia

दुनिया के 7 नये अजूबों की पूरी जानकारी

The world's seven wonders Full Information Hindi

दुनिया के 7 नये अजूबों की पूरी जानकारी
Seven Wonders of the World
   

    दुनिया के सात अजूबे ऐसे प्राकृतिक और मानव निर्मित संरचनाओं का संकलन है जो अपनी अद्भुत कला संरचना और खूबसूरती से मनुष्य को आश्चर्यचकित करती हैं प्राचीन काल से वर्तमान काल तक दुनिया के अजूबों की ऐसी कई विभिन्न सूचियां तैयार की गई है लगभग 2200 साल पहले यूनान के विद्वानों ने दुनिया के सात अजूबों की सूची तैयार की थी और यही सात अजूबे लगभग 2100 सालों तक दुनिया में प्रचलित रहे लेकिन 1999 में इसमें बदलाव करने की बात चली क्योंकि पुराने अजूबों में अधिकांश टूट-फूट चुके हैं 2007 में पुर्तगाल की राजधानी लिस्बन में दुनिया के सात नए लोगों के नामों की घोषणा की गई दुनिया की प्राचीन सात अजूबों में गीजा के पिरामिड, बेबीलोन के झूलते बाग़, ओलंपिया में ज़ेउस की मूर्ति, अर्टेमिस का मंदिर, माउसोलस का मकबरा, रोड्स की विशाल मूर्ति, और अलेक्जेंड्रिया की रौशनी घर शामिल थे वर्तमान में गीजा के पिरामिड के अलावा अन्य सभी अजूबे ध्वस्त हो चुके हैं तो आइए जानते हैं दुनिया के सात नए अजूबे के बारे में

The world's seven wonders Full Information Hindi
चीन की दीवार






नंबर 1 चीन की दीवार - चीन की उत्तरी सीमा पर बनाई गई है दीवार दुनिया की सबसे लंबी मानव निर्मित संरचना है यह करीब 6500 किलोमीटर लंबी है पर इसकी ऊंचाई 35 फीट है यह दीवार चीन को सुरक्षा देती है इस दीवार का निर्माण पांचवी सदी ईसापूर्व में शुरू हुआ और 16 सदी तक जारी रहा


The world's seven wonders Full Information Hindi
जॉर्डन का पेट्रा















नंबर 2 जॉर्डन का पेट्रा - पश्चिमी एशिया के जोड़ में स्थित एक ऐतिहासिक शहर है यह लाल बलुआ पत्थरों से बनी इमारतों के लिए प्रसिद्ध है यहां मौजूद इमारतों में 138 फुट ऊंचा मंदिर ओपन स्टेडियम लहर तालाब आदि शामिल है यहां की इमारतों की दीवारों पर हुई नक्काशी बेहद खूबसूरत है 


The world's seven wonders Full Information Hindi
क्राइस्ट द रिडीमर ब्राजील
नंबर 3 क्राइस्ट द रिडीमर ब्राजील - ब्राजील के रियो दे जनेरो में कार्को वेडो पर्वत की चोटी पर जीसस क्राइस्ट की क्राइस्ट द रिडीमर नाम की मूर्ति स्थित है करीब 32 मीटर ऊंची स्टेच्यू का वजन 700 टन है इसका निर्माण 1922 से 1931 के बीच किया गया था

The world's seven wonders Full Information Hindi
ताजमहल
नंबर 4 ताजमहल - मुगल बादशाह शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज की याद में ताजमहल का निर्माण कराया था बेपनाह मोहब्बत की निशानी ताजमहल को बनकर तैयार होने में करीब 20 साल का वक्त लगा था ताज को मुगल शिल्प कला का उत्कृष्ट उदाहरण माना जाता है 

The world's seven wonders Full Information Hindi
रोम का कोलोसियम
नंबर 5 रोम का कोलोसियम - यह एक विशाल स्टेडियम है इसका निर्माण सत्रहवीं सदी में सम्राट वेस्पेसियन ने शुरू करवाया था कहा जाता है कि स्टेडियम में 50000 लोग जंगली जानवरों और गुलामों के बीच खूनी लड़ाई का खेल देखते थे इस स्टेडियम की वास्तुकला ऐसी है कि उसकी नकल करना संभव नहीं है

The world's seven wonders Full Information Hindi
चीजें इजा पिरामिड
नंबर 6 चीजें इजा पिरामिडमेक्सिको मेक्सिको में स्थित चिचेन इत्जा माया सभ्यता के सबसे प्राचीन शहरों में से एक है यह कुकुलकन  का पिरामिड चौक मॉल के मंदिर हजार पिलरों का हाल और कैदियों के लिए बनाए गए खेल के मैदान आज भी देखे जा सकते हैं यह कुकुलकन का पिरामिड स्थित है जो 79 फीट ऊंचा है जिसकी चारों दिशाओं में 91 सीढ़ियां हैं इसकी हर सीढ़ी साल के 1 दिन का प्रतीक है इस पिरामिड के ऊपर बना चबूतरा साल के 365 पर दिन का प्रतीक है 

The world's seven wonders Full Information Hindi
माचू पिचू पेरू
नंबर 7  माचू पिचू पेरू - दक्षिण अमेरिकी देश पेरू में जमीन से 2430 फीट की ऊंचाई पर माचू पिचू नाम का शहर है इसे 15 वी शताब्दी में बसाया गया था एंडीज पर्वतों के बीच यह शहर इंका सभ्यता का शहर है माना जाता है कि पहले यह नगर संपन्न हुआ करता था पर बाद में स्पेन के आक्रमणकारी अपने साथ यहां चेचक जैसी बीमारियां लेकर आए जिससे धीरे-धीरे यह शहर पूरी तरह से तबाह हो गया 

      हमारे इस ब्लॉग को पढ़ने  का धन्यवाद अगर यह आपको पसंद आया हो तो इसे शेयर करें और इस पर कमेंट करके हमें बताएं इसके साथ ही हमारे अन्य ब्लॉग को जरूर देखें हमारे ब्लॉग Jankari Dunia को सब्सक्राइब करना ना भूले
धन्यवाद



0 comments: